मानव जनसंख्या एवं पर्यावरण ( Human Population and Environment )

✷ धरती पर आधुनिक मानव ( होमो सेपियन्स सेपियन्स ) का उद्गम लगभग पचास हजार वर्ष पूर्व आकार्यक में होमो सेपियन्स से हुआ जो 1,00,000 से 2,00,000 के बीच था । आरम्भ में मानव समष्टि छोटी थी । इस कारण मानव द्वारा प्रकृति से न्यूनतम छेड़छाड़ की जाती रही ।

✷ जनसंख्या के वितरण के मुख्य बिन्दु यह है कि अधिकांशतः जनसंख्या महाद्वीपों के किनारे पर घनीभूत मिलती है जबकि आन्तरिक भाग विरल या जनशून्य है ।

✷ जनसंख्या की वार्षिक वृद्धि दर में भिन्नता की दृष्टि से विश्व को चार क्षेत्रों में बाँटा गया है -

  • ( i ) अति उच्च वृद्धि के क्षेत्र
  • ( ii ) उच्च वृद्धि के क्षेत्र
  • ( iii ) माध्यम वृद्धि के क्षेत्र
  • ( iv ) न्यून वृद्धि के क्षेत्र
  • ✷ जनसंख्या प्रभावित करने वाले कारक -

    1. ( A ) प्राकृतिक कारक
      1. ( i ) स्थिति
      2. ( ii ) जलवायु
      3. ( iii ) भूमि की बनावट
      4. ( iv ) जलपूर्ति
      5. ( v ) मिट्टियाँ
      6. ( vi ) खनिज पदार्थ
      7. ( vii ) शक्ति के साधन
      1. ( B ) सांस्कृतिक कारण
      2. ( i ) आर्थिक उन्नति की अवस्था
      3. ( ii ) प्राविधिक उन्नति का स्वर
      4. ( iii ) सामाजिक कारण
      5. ( iv ) राजनीतिक कारण
      6. ( v ) मनोवैज्ञानिक कारण

    जनसंख्या विस्फोट – एक लेखक ने पृथ्वी पर जनसंख्या वृद्धि की तुलना एक लम्बे , पतले , पलीते ( बम के लगे तारे से किया है जो बारुद तक पहुँचने से पहले धीमे और एक - एक जलता है ।

    ✷ जनसंख्या विस्फोट के कारण -

  • ( i ) जन्मदर का उच्च बना रहना तथा मृत्यु दर में गिरावट
  • ( ii ) स्वास्थ्य सेवाओं में भारी विस्तार
  • ( iii ) कृषि - उत्पादन में भारी वृद्धि
  • ( iv ) शिक्षा एवं परिवहन के साधनों में वृद्धि
  • ( v ) सामान्य आर्थिक विकास की प्रगति
  • राष्ट्रीय कल्याण कार्यक्रम का उद्देश्य राष्ट्रीय आर्थिक अवस्था के आर्थिक आवश्यकता के अनुकूल जनसंख्या को संतुलित करने के लिए जन्म दर को आवश्यक सीमा तक कम करना है ।

    ✷ एड्स का पूरा नाम एक्वायर्ड इम्यूनो डेफिलिऐंसी सिन्ड्रोम है जो HIV ( ह्यमन इन्यूनो डेफिसिएंसी ) सिन्ड्रोम द्वारा फैलता है । यह एड्स वाइरस है ।

    ✷ एड्स रोग कई कारणों से फैलता है -

  • ( i ) असुरक्षित यौन सम्बन्ध
  • ( ii ) वेश्या गमन
  • ( iii ) आप्राकृतिक मैथुन
  • ( iv ) ग्रसित रोगी का रुधिर लेना हैं ।
  • ✷ एड्स रोग के लक्षण ये लक्षण निम्नलिखित है -

  • ( i ) लगातार बुखार आना
  • ( ii ) दस्त लगना
  • ( iii ) रात में पसीने निकलना
  • ( iv ) शरीर का भार कम होना
  • ✷ एड्स के प्रचार विस्तार को मुख्यतः दो भागों में बाँटा गया है - ( i ) प्रत्यक्ष ( ii ) अप्रत्यक्ष

    जनसंख्या नीति 2000 में तीन उद्देश्यों का समावेश किया गया -

  • ( i ) तात्कालिक उद्देश्य
  • ( ii ) मध्य कालीन
  • ( ii ) दीर्घ कालीन उद्देश्य
  • मानवाधिकार ( Human Rights ) - 10 दिसम्बर , 1948 को संयुक्त राष्ट्र की सामान्य सभा ( General Assembly of United Nations ) द्वारा निम्न मानवाधिकार घोषित किये गये जिनके अनुसार विश्व समुदाय में उपस्थित प्रत्येक मानव के कुछ अधिकार हैं

    ✷ नैतिक शिक्षा के कुछ प्रमुख बिन्दु निम्नलिखित हैं -

  • ( i ) प्रकृति से प्रेम
  • ( ii ) हरे वृक्षों को अकारण काटने की मनाही
  • ( iii ) नीम , आँवला , पीपल , बरगद , आदि को विशेष त्यौहारों पर तुलसी जैसे बहुउपयोगी पौधे को हर बार में पूज्य स्थान
  • ( iv ) वनों को पितृतुल्य मानकर उसकी रक्षा
  • ( v ) इन्द्रियों को वश में रखना
  • ✷ सूचना तकनीक का पर्यावरण एवं मानव स्वास्थ्य के योगदान - विज्ञान की वह शाखा जिसका सम्बन्ध सूचनाओं से संग्रह प्रक्रमण तथा संप्रेषण से है , सूचना प्रौद्योगिकी कहलाती है । सूचना प्रौद्योगिकी को पदार्थ तथा ऊर्जा के उपरांत जीवन मूल्य निर्धारित करने वाले मूलभूत तत्वों से तीसरा स्थान प्रदान किया गया है । राष्ट्रीय विकास हेतु मूल संसाधन के रूप में सूचना आधुनिक संस्था के विकास में महत्त्वपूर्ण योगदान देती है तथा सहयोग पूर्ण संस्कृति के विकास को आधार प्रदान करती है ।

    ✷ जन्म नियंत्रण को बढावा देने के लिए निम्न तरीकों की शुरूआत की गई है । जैसे — शेयर , रक्षक , माला डी आदि ।

    ✷ सीमित परिवार की निम्न आवश्यकताएँ होती हैं -

  • ( i ) उचित स्वास्थ्य सहायता
  • ( ii ) पर्याप्त भोजन
  • ( iii ) अच्छे , साफ , हवादार घर
  • ( iv ) उचित और आवश्यक प्राथमिक शिक्षा ।
  • ✷ मानव स्वास्थ्य पर्यावरण की स्वच्छता , शुद्धता तथा गुणवत्ता पर निर्भर करता है ।

    ✷ पर्यावरण जितना ही शुद्ध और संतुलित होगा , उतना ही व्यक्ति तथा समुदाय का स्वास्थ्य उत्तम होगा ।

    ✷ नगरीकरण / शहरीकरण वर्तमान विश्व जनंसख्या की एक ऐसी प्रवृत्ति है जिसका पर्यावरण अवकर्षण पर सर्वाधिक प्रभाव पड़ा है ।

    नगरीकरण का पर्यावरण पर प्रभाव निम्नलिखित तथ्यों द्वारा हुआ है -

  • ( 1 ) कृषि भूमि की कमी
  • ( 2 ) वनोन्मूलन
  • ( 3 ) प्रदूषण में अत्यधिक वृद्धि
  • ( 4 ) अपशिष्ट पदार्थों द्वारा पर्यावरण का दूषित होना
  • ( 5 ) नगरों में प्राकृतिक स्थल नगण्य हो जाते हैं ।
  • परिवार नियोजन के निम्नलिखित महत्त्व हैं —

  • ( i ) राष्ट्र की दृष्टि से महत्त्व
  • ( ii ) मृत्यु दर पर प्रभाव
  • ( iii ) सामाजिक महत्त्व
  • ( iv ) आर्थिक महत्त्व
  • ( v ) स्वास्थ्य की दृष्टि से महत्त्व
  • ✷ एडस ( AIDS ) एक भयंकर रोग है जो लैंगिक जनन रोग है ।

    Download PDF
    324 KB

    Post a Comment

    0 Comments

    Promoted Posts