Join Our Telegram Channel

यूपी जेल वार्डन हिंदी परीक्षा प्रैक्टिस सेट - 4

UP Jail Warder Hindi Exam Practice Set-4

Telegram Quiz

अपने टेलीग्राम ग्रुप में इस क्विज का आयोजन करने के लिए यहां क्लिक करें - http://t.me/QuizBot?start=tUrWrObk

Online Quiz

गूगल पर इस क्विज को हल करने के लिए यहां क्लिक करें - https://forms.gle/4veWKR5ttpMzoKCq7


निम्नलिखित तत्सम तद्भव शब्दों के युग्म में से कौन युग्म त्रुटिपूर्ण है ?

तिक्त - तीता
उट्र - ऊँट
घृत - घी
त्वरित - तुरंत

निम्नलिखित तत्सम तद्भव शब्दों के युग्म में से त्रुटिपूर्ण है :

गोमय - गोबर
पर्यक - पटरी
सपत्नी - सौत
क्षीर - खीर

सीमा कुत्ते से डरती है । इस वाक्य में कौन सा कारक है ?

अपादान कारक
कर्म कारक
सम्बोधन कारक
करण कारक

‘ ऐ राकेश ! यहाँ आओ ’ इस वाक्य में कौन सा कारक है ?

करण कारक
सम्बोधन कारक
अधिकरण कारक
कर्ता कारक

‘ हनुमान ’ का पर्यायवाची शब्द नहीं है

विनायक
मारूति नन्दन
पवनसुत
इनमें से कोई नहीं

‘ पक्षी ’ का पर्यायवाची शब्द है

उरग
शार्दूल
वृन्द
विहग

‘ तनय , सुत , आत्मज ’ विकल्पों में से सही पर्यायवाची शब्द चुनिए ।

पुत्र
भाई
पुत्री
पिता

जब वाक्य में एक समान अधिकरण का प्रयोग होता है तो किस विराम चिह्न का प्रयोग होता है ?

संकेत चिह्न
अर्द्धविराम
लाघव चिह्न
अल्प विराम

मिश्रित तथा संयुक्त वाक्यों में विरोध का भाव प्रकट करने के लिए किस विराम चिह्न का प्रयोग किया जाता है ?

अर्द्ध विराम
कोष्ठक
योजक चिह्न
उपविराम

‘ दुष्कर ’ में कौन सा उपसर्ग है ?

दुस्
दुश्
दुष्
कोई नहीं

निम्न में से किस उपसर्ग का अर्थ विशिष्ट या भिन्न है ?

विष्
विश्
वि
विशिश

निम्न में से किस शब्द में ‘ निर ’ उपसर्ग का प्रयोग नहीं हैं ?

निर्जिव
निर्धन
नीरोग
कोई नहीं

‘ चौपाई ’ में कौनसा उपसर्ग प्रयोग किया गया है ?

हिन्दी उपसर्ग
विदेशी उपसर्ग
संस्कृत उपसर्ग
कोई नहीं

निम्नलिखित में से कौन सा वाक्य शुद्ध है ?

दिन भर वह कड़े परिश्रम करता है
फलों का विक्रेता मुझे प्रतिदिन फल दे जाता है
नेताजी की मृत्यु क्षोभजनक है
तुम्हारे से कोई नहीं हो सकता

निम्नलिखित में से कौन सा वाक्य अशुद्ध है

गर्मियों की एक बात सुनाता हूँ
उसने अपनी बात धीरे - से बताई
तुम्हारे माता - पिता क्या काम करते हैं
तुम तुम्हारे घर चले जाओ

निम्नलिखित में से कौन सा वाक्य अशुद्ध है

प्रत्यक्ष को प्रमाण के साथ आवश्यकता नहीं होती
प्रत्यक्ष को प्रमाण की आवश्यकता नहीं होती
प्रत्यक्ष के प्रमाण की आवश्यकता नहीं होती
प्रत्यक्ष को प्रमाण में आवश्यकता नहीं होती

‘ बारहसिंगा ’ शब्द में समास है

द्वन्द्व समास
अव्ययीभाव समास
कर्मधारय समास
बहुव्रीहि समास

कर्मधारय समास का उदाहरण है

श्वेतपत्र
पाठशाला
नीलकण्ठ
गगनचुम्बी

‘ परमानन्द ’ में समास है :

अव्ययीभाव समास
कर्मधारय समास
द्वन्द्व समास
बहुव्रीहि समास

निम्नलिखित में से कौन - सा समास नहीं है ?

बहुव्रीहि समास
कर्मकारक समास
अव्ययीभाव समास
द्वन्द्व समास

‘ कान भरना ’ मुहावरे का अर्थ है

चाणक्य होना
चुगली करना
असर न होना
धोखा देना

इनमें कौन सा शब्द तद्भव है ?

भ्रमर
मधुप
भँवरा
मधुकर

‘ मदरी ’ का तत्सम रूप है

मुद्री
मुद्रिका
मुन्दरी
मुदरिका

‘ देवर ’ का तत्सम शब्द है

दुर्वर
देववर
द्विवर
द्वितीयवर

‘ शिक्षिका ’ शब्द क्या स्त्रीलिंग है ? इसमें निहित प्रत्यय की पहचान करें :

अनी
इका
371
अक

‘ दर्शक ’ शब्द के लिए लिंग व प्रत्यय की पहचान करें :

पुंलिंग , आनी
स्त्रीलिंग , अ
स्त्रीलिंग , अक
पुंलिंग , अक

‘ क्ष ’ वर्ण किसके योग से बना है ?

क् + ष
क् + श
क् + च
क् + छ

निम्न में से कौन - सा शब्द अमात्रिक है ?

अमिताभ
कारखाना
कलरव
चहचहाना

‘ ट ’ वर्ग में किस प्रकार के व्यंजन हैं ?

तालव्य
दन्तय
मूर्धन्य
कंठ्य

हिन्दी वणर्पमाला में व्यंजनों की संख्या है

32
36
33
34

निम्नलिखित में से एक ‘ अमृत ’ का पर्यायवाची नहीं है

अम्बुज
सुधा
अमिय
जीवनोदक

‘ भौरा ’ का पर्यायवाची शब्द है

सारंग
शिलीमुख
पादम
केकी

‘ इन्द्र ’ का पर्यायवाची शब्द है

विनायक
मधवा
बाजीगर
राजराज

‘ अतनु ’ का पर्यायवाची शब्द है

राम
शिव
कामदेव
कृष्ण

माली आवत देखि कलियन करि पुकार । फूले फूले चुन लियो कलि हमारी बार ।। इन पंक्तियों में कौन सा अलंकार है ?

श्लेष
यमक
मानवीकरण
उमा

निर्देश ( प्र.स. 36-40 ) : दिए गए गद्यांश को ध्यानपूर्वक पढ़े और नीचे दिए गए प्रश्नों का उत्तर दीजिए । "समस्याओं का हल ढूँढ़ने की क्षमता पर एक अध्ययन किया गया । इसमें भारत में तीन तरह के बच्चों के बीच तुलना की गई- एक तरफ वे बच्चे जो दुकानदारी करते हैं पर स्कूल नहीं जाते , ऐसे बच्चे जो दुकान संभालते हैं और स्कूल भी जाते हैं और तीसरा समूह उन बच्चों का था जो स्कूल जाते हैं पर दुकान पर कोई मदद नहीं करते । उनसे गणना के व इबारती सवाल पूछे गए । दोनों ही तरह के सवालों में उन स्कूली बच्चों ने जो दुकानदार नहीं हैं , मौखिक गणना या मनगणित का प्रयोग बहुत कम किया , बनिस्नत उनके जो दुकानदार थे । स्कूली बच्चों ने ऐसी गलतियाँ भी की , जिनका कारण नहीं समझा जा सका । इससे यह साबित होता है कि दुकानदारी से जुड़े हुए बच्चे हिसाब लगाने में गलती नहीं कर सकते क्योंकि इसका सीधा असर उनके काम पर पड़ता है , जबकि स्कूलों के बच्चे वही हिसाब लगाने में अक्सर भयंकर गलतियाँ कर देते हैं । इससे यह स्पष्ट होता है कि जिन बच्चों को रोजमर्रा की जिंदगी में इस तरह के सवालों से जूझना पड़ता है , वे अपने लिए जरूरी गणितीय क्षमता हासिल कर लेते हैं । लेकिन साथ ही इस बात पर भी गौर करना महत्त्वपूर्ण है कि तरह की दक्षताएँ एक स्तर तक और एक कार्य - क्षेत्र तक सीमित होकर रह जाती हैं । इसलिए वे सामाजिक व सांस्कृति परिवेश जो कि ज्ञान को बनाने व बढ़ाने में मदद करते हैं , वही उस ज्ञान को संकुचित और सीमित भी कर सकते हैं ।"

अनुच्छेद के आधार पर कहा जा सकता है कि

बच्चे रोजमर्रा के जीवन में काम आने वाली दक्षताओं को स्वतः ही हासिल कर लेते हैं
बच्चों को गणित सीखने के लिए दुकानदारी करनी चाहिए
सिर्फ दुकानदार बच्चे ही गणित सीख सकते हैं
बच्चों को गणित सीखना चाहिए

अनुच्छेद के आधार पर बताइए कि सामाजिक व सांस्कृतिक परिवेश ज्ञान को

सीमित कर सकता है
संकुचित कर सकता है
बनाने में मदद करता है
बनाने में मदद भी करता है और उसे संकुचित , सीमित भी कर सकता है

‘ इक ’ प्रत्यय का उदाहरण है

सांस्कृतिक
चूँकि
संकुचित
सीमित

‘ मनगणित ’ का अर्थ है

मनगढंत गणित
कठिन गणित
मन - ही - मन हिसाब लगाना
मनपसंद गणित

संयुक्त क्रिया का उदाहरण है

स्कूल जाते हैं
दुकान संभालते हैं
अध्ययन किया गया
हिसाब लगाते हैं

Download PDF

पीडीएफ डाउनलोड करें और इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें


Post a Comment

0 Comments

Promoted Posts