Join Telegram Group

आकलन एवं मूल्यांकन REET , CTET , UPTET के लिए उपयोगी प्रश्न

Telegram Quiz

अपने टेलीग्राम ग्रुप में इस क्विज का आयोजन करने के लिए यहां क्लिक करें - http://t.me/QuizBot?start=43GTfW59

Online Quiz

गूगल पर इस क्विज को हल करने के लिए यहां क्लिक करें - https://forms.gle/4HwqBSAPDLKHKvyR6


प्रशिक्षण व रोजगार सेवा संगठन समिति की नियुक्ति किस सन् में हुई ?

1945
1925
1890
1927

स्याही के धब्बों वाला परीक्षण ( प्रक्षेपण विधि ) का निर्माण हरमन रोशा द्वारा कब किया गया ?

सन् 1920 में
सन् 1918 में
सन् 1927 में
सन् 1921 में

व्यक्ति की संवेदना और अभिवृत्ति जानने की सबसे उपयुक्त विधि है

साक्षात्कार विधि
प्रश्नावली विधि
निरीक्षण विधि
उपरोक्त सभी

निम्नलिखित में से किसने सबसे पहले प्रश्नावली का निर्माण किया ?

प्लेटो ने
ब्रूनर ने
वुडवर्थ ने
लोविट ने

वह मापनी जिसमें अंतराल मापनी के समस्त गुण के साथ परम् शून्य भी हो , कहलाती है -

अनुपात मापनी
क्रमसूचक मापनी
अंतराल मापनी
नामित मापनी

शैक्षिक निर्देशन का उद्देश्य है प्रत्येक व्यक्ति को

भविष्य को प्रगतिशील बनाने में परामर्श देना
समायोजन की क्षमता प्रदान करना
योग्यताओं , रुचियों व अवसरों के अनुकूल चुनाव में सहायता देना ।
उपरोक्त सभी

उदाहरण , निरीक्षण , विश्लेषण , वर्गीकरण नियमीकरण निम्नलिखित में से किस विधि के सोपान हैं ?

निगमन विधि
बहिर्दर्शन विधि
अंतर्दर्शन विधि
आगमन विधि

प्रासंगिक अंतर्बोध परीक्षण ( TAT ) का विकास . . . . . . . . द्वारा किया गया था ।

बैलक
मरे
होल्टजमैन
सायमंड

निम्न में से किस विधि का उपयोग स्मृति को मापने के लिए नही किया जाता है ?

पहचान विधि
प्रत्याह्न विधि
पुनः सीखना विधि
तार्किक विधि

सांख्यिकी में वह रेखाचित्र , जिसमें आवृत्तियों को स्तंभों द्वारा प्रदर्शित किया जाता है , कहलाता है

स्तम्भाकृति
आवृत्ति बहुभुज
संचयी आवृत्ति
रेखाचित्र

व्यक्तिगत विभिन्नताओं को जन्म देने वाला विद्यालयी कारक है

विद्यालय का वातावरण
विद्यालयी प्रशिक्षण
शिक्षा की दिशा
उपरोक्त सभी

किसी बच्चे का व्यक्तित्व , वंशानुक्रम तथा वातावरण का क्या होता है ?

धनात्मक प्रतिरूप
ऋणात्मक प्रतिरूप
योगात्मक प्रतिरूप
गुणात्मक प्रतिरूप

“ सम्भवतः व्यक्ति योग्यता की विभिन्नताओं के बजाय व्यक्तित्व की विभिन्नताओं से अधिक प्रभावित होता है । ” यह कथन किसका है ?

स्किनर
मन
क्रो एवं क्रो
टायलर

निम्न में से क्या व्यक्तिगत भिन्नता का कारण नहीं है ?

जाति
बुद्धि
वंशानुक्रम
इनमें से कोई नहीं

व्यक्तिगत विभिन्नता हेतु भाषा विकास एक आवश्यक कौशल है क्योंकि यह ........ आवश्यकताओं की पूर्ति की माँग है ।

शारीरिक
मनोवैज्ञानिक
सामाजिक
ये सभी

व्यक्तिगत विभिन्नता का प्रमुख कारण है

वंशानुक्रम
आयु
वातावरण
ये सभी

कौन - सी विधि व्यक्तित्व के उन पहलुओं को उजागर कर देती है जिनसे वह स्वयं अनभिज्ञ होता है ?

प्रेक्षण विधि
साक्षात्कार विधि
जीवन इतिहास विधि
आत्मकथा लेखन विधि

मनोविज्ञान प्रवृत्ति की क्या - क्या विशेषताएँ हैं ?

व्यक्तिगत विभिन्नता के सिद्धान्त पर बल
बाल मनोविज्ञान पर बल
बालक के व्यक्तित्व का आदर
उपरोक्त सभी

वैयक्तिक विभिन्नता के मिलन के सम्बन्ध में एक अध्यापक की भूमिका होनी चाहिए

व्यक्ति आधारित पाठ्यक्रमों को उनकी आवश्यकता के अनुसार जानने की कोशिश
व्यक्ति के दृष्टिकोण , अभिरुचि और योग्यता को जानने का प्रयास
उपरोक्त दोनों
उपरोक्त में से कोई नहीं

बाल मनोविज्ञान के आधार पर कौन - सा कथन सर्वोत्तम है ?

कुछ बच्चे एक जैसे होते हैं
प्रत्येक बच्चा विशिष्ट होता है
सारे बच्चे एक जैसे होते हैं
कुछ बच्चे विशिष्ट होते हैं

प्रत्येक शिक्षार्थी स्वयं में विशिष्ट है । इसका अर्थ है कि

एक विषमरूपी कक्षा में शिक्षार्थियों की क्षमताओं को विकसित करना असम्भव
सभी शिक्षार्थियों के लिए एकसमान पाठ्चर्या सम्भव नहीं है
कोई भी दो शिक्षार्थी अपनी योग्यताओं , रुचियों और प्रतिभाओं में एकसमान नहीं होते
शिक्षार्थियों में न तो कोई समान विशेषताएँ होती हैं और न ही उनके लक्ष्य समान होते हैं

बहिर्मुखी बालक का लक्षण है

अपने भावों को अपने तक सीमित रखना
एकान्त में विश्वास करना
कम बोलना
कार्य करने की दृढ़ इच्छा शक्ति रखना

अन्तर्मुखी बालक होता है

सभी के साथ मिलकर चलने वाला
एकान्त में विश्वास रखने वाला
समस्याओं को पारस्परिक रूप से समझने वाला
स्वयं को यथार्थ के अनुकूल ढालने वाला

फ्रायड के संरचनात्मक प्रतिमान का तत्व नहीं है

Id
Ego
Super Id
Super Ego

16 PFQ का सम्बन्ध है

रुचि से
व्यक्तित्व से
अभिप्रेरणा से
बुद्धि से

व्यक्तित्व का शीलगुण सिद्धान्त निम्नलिखित में से कौन - सा दृष्टिकोण रखता है ?

आवरण दृष्टिकोण
तात्विक दृष्टिकोण
उपरोक्त दोनों
उपरोक्त से कोई नहीं

निम्नलिखित में बेमेल छाँटिए ।

एस्थेनिक
अर्थलेटिक
अन्तर्मुखी
पिकनिक

निम्न में से एक विधि मानसिक चिकित्सा हेतु प्रयुक्त की जाती है

वस्तुनिष्ठ विधि
व्यक्तित्व विधि
स्वप्न विश्लेषण विधि
रोशी विधि

मनोवैज्ञानिक दृष्टि से सबसे अधिक व्यक्ति निम्नलिखित में से किस व्यक्तित्व के प्रकार में आते हैं ?

बहिर्मुखी
अन्तर्मुखी
उभयमुखी
इनमें से कोई नहीं

“ व्यक्तित्व जन्मजात और अर्जित प्रवृत्तियों का योग है । ” यह कथन है

मन का
वैलेण्टाइन का
बोरिंग का
इनमें से कोई नहीं

व्यक्तित्व के प्रकार सिद्धान्त के अनुसार व्यक्तित्व निम्नलिखित में से किस पर आधारित हैं ?

शीलगुण पर
क्षेत्र पर
शरीर - द्रवों पर
उत्तेजना - अनुक्रिया पर

TAT परीक्षण किसका मापन करता है ?

रुचि
व्यक्तित्व
उपलब्धि
बुद्धि

व्यक्तित्व का सर्वाधिक मान्य वर्गीकरण किया है

हेमेन ने
युंग ने
आलपोर्ट ने
ड्रेवर ने

एक सामान्य स्ववृत्ति जो एक समूह अथवा एक संस्था के प्रति होती है , कहलाती है

अधिगम
अभिवृत्ति
जिज्ञासा
तृष्णा

व्यक्ति की पहचान करने में सहायक है

व्यक्ति की शिक्षा
बाह्य भिन्नताएँ
व्यक्ति का मानसिक स्वास्थ्य
उपरोक्त सभी

समन्वित व्यक्तित्व में पाया जाता है

दृढ़ इच्छाशक्ति
अच्छे वस्त्र धारण करना
सुन्दर दिखने की इच्छा
उच्च शिक्षा प्राप्ति

आत्मकेन्द्रित व्यक्ति होता है

सामाजिक निर्भय
उभयमुखी
बहिर्मुखी
अन्तर्मुखी

प्रश्नों के कई प्रकार होते हैं । पौधे एवं जानवरों में चार अंतर बताइए । यह प्रश्न किस प्रकार के प्रश्न का उदाहरण है ?

वस्तुनिष्ठ प्रश्न
अति लघु उत्तरीय प्रश्न
लघु उत्तरीय प्रश्न
इनमें से कोई नहीं

मापन व मूल्यांकन क्रमशः होते हैं

योग्यता व क्षमता बोधक
गुण व संख्या बोधक
निम्न में से कोई नहीं
संख्या व गुण बोधक

निम्नलिखित में से कौन - सा रचनात्मक आकलन के लिए उचित उपकरण नहीं है ?

दत्त कार्य
प्रश्नोत्तरी और खेल
सत्र परीक्षा
मौखिक प्रश्न

सत्य / असत्य , सही / गलत एवं हाँ / नहीं उत्तर देने वाले प्रश्न किस प्रकार के प्रश्नों के उदाहरण है ?

वैकल्पिक उत्तर वाले प्रश्न
मिलान प्रकार के प्रश्न
बहुवैकल्पिक प्रश्न
इनमें से कोई नहीं

सतत् और व्यापक मूल्यांकन ............ पर बल देता है ।

सीखने को सुनिश्चित करने के लिए व्यापक स्केल पर निरंतर परीक्षण
शिक्षण के साथ परीक्षाओं का सामंजस्य
सीखने को किस प्रकार अवलोकित , रिकॉर्ड और सुधारा जाए इस पर
बोर्ड परीक्षाओं की अनावश्यकता पर

वह मूल्यांकन जो विद्यालय परिषदों के दिशा - निर्देशों के आधार पर तो किया जाता है , किन्तु परिषद् ( बोर्ड ) स्तर पर नहीं , कहलाता है

व्यापक मूल्यांकन
अवलोकन
विद्यालय आधारित मूल्यांकन
निरीक्षण

बच्चों का मूल्यांकन होना चाहिए ।

गृह परीक्षा द्वारा
बोर्ड परीक्षा द्वारा
लिखित एवं मौखिक परीक्षा द्वारा
सतत् एवं व्यापक मूल्यांकन द्वारा

व्यावहारिक रूप से रचनात्मक मूल्यांकन का अर्थ नहीं है ।

शिक्षा - प्राप्ति के लक्ष्य विद्यार्थियों के साथ बाँटना ।
फीडबैक मुहैया करना , जो विद्यार्थियों को समझने में और अगले कदम उठाने में सहायता करता है ।
स्व - निर्धारण के विद्यार्थियों को शामिल करना ।
यह विश्वास करना कि प्रत्येक विद्यार्थी को सुधारने के लिए शिक्षक की भूमिका सर्वाधिक आवश्यक है ।

सतत् एवं व्यापक मूल्यांकन में निम्नलिखित में से किसका मूल्यांकन नहीं किया जाना चाहिए ?

छात्रों के विभिन्न विषय - क्षेत्रों के कौशल
छात्रों की सामाजिक - आर्थिक स्थिति
छात्रों के वैयक्तिक कौशल , रुचि एवं अभिवृत्ति
छात्रों के विभिन्न विषय - क्षेत्रों में सफलता पर स्तर

अधिगम के अच्छे मूल्यांकन का / के मानदंड है / हैं

ये विश्वसनीय होते हैं
ये तुलनीय होते हैं
ये युक्तिसंगत होते हैं
ये सभी

वर्तमान समय में सतत् एवं व्यापक मूल्यांकन के अंतर्गत ग्रेडों में अंकों का वितरण किया जाता है । इस प्रणाली में कितने प्रतिशत अंक प्राप्त करने वाले छात्र को ‘ सर्वोकृष्ट ’ या ‘ ए + ’ ग्रेड के अंतर्गत रखा जाता है ?

20 % - 35 %
56 % - 74 %
90 % - 100 %
35 % - 55 %

निम्न में से क्या अच्छे मूल्यांकन की विशेषता है ?

विश्वसनीयता
वैधता
न्याय संगतता
ये सभी

शिक्षा में यह मूल्यांकन का क्षेत्र नहीं है

रुचि परीक्षा
अभिक्षमता परीक्षा
विभेदकता
बुद्धि परीक्षा

निम्न में से क्या एक मूल्यांकन का महत्त्व नहीं है ?

अधिगम कठिनाइयों को मालूम करना
कक्षा के उद्देश्यों को पूरा करना
विद्यार्थियों की समस्याओं को बढ़ाना
विद्यार्थियों की प्रगति की रिपोर्ट तैयार करना

व्यक्तित्व के मूल्यांकन की सर्वश्रेष्ठ विधि है

ड्रा - ए - मैन
सर्वे परीक्षण
प्रश्नावली परीक्षण
प्रक्षेपण परीक्षण

दैनिक मूल्यांकन लाभदायक है

शिक्षक द्वारा अपने कर्तव्य का मूल्यांकन करने में
बालकों को तात्कालिक शैक्षिक स्थिति का पता लगाने में
कक्षा को अधिक - से - अधिक तंग करने में
बालकों का ध्यान केंद्रित करने में

शिक्षण के मूल्यांकन चरण का ध्येय है

अध्यापक की कमियों को जानना
यह जानना कि शैक्षिक उद्देश्य कहाँ तक प्राप्त हुए है
विद्यालय के स्तर को ऊँचा उठाना
शिक्षण रणनीतियों की प्रभावशीलता को जानना

सतत् मूल्यांकन का कार्य है

उत्पादक जीवन जीने के लिए शिक्षा किस सीमा तक तैयार कर पाई है , का पुष्टिपोषण प्रदान करना
जिन बालकों को उपचारात्मक शिक्षा की आवश्यकता है , उनकी पहचान करना
अधिगम की कठिनाइयों व समस्या वाले क्षेत्रों का पता लगाना
शिष्यों व अध्यापकों की कमजोरियों का पता लगाना

मूल्यांकन सहायक है

संचयी अभिलेख तैयार करने में
अधिगम उद्देश्यों की प्राप्ति में
अध्यापक के व्यवहार में सुधार लाने में
उपरोक्त सभी

मूल्यांकन की प्रक्रिया को किस रूप में माना गया है ?

त्रिभुजाकार
द्विविमीय
एकल
चतुर्भुजाकार

मूल्यांकन को व्यापक तभी माना जा सकता है जब

सम्पूर्ण विषय - वस्तु का मूल्यांकन हो
सभी उद्देश्य मूल्यांकित किए जाए
सभी अध्यापक मूल्यांकन करे
बच्चों के व्यक्तित्व के सभी पक्षों का मूल्यांकन हो

व्यक्तित्व मूल्यांकन की सर्वश्रेष्ठ विधि है

प्रश्नावली
प्रक्षेपणात्मक
केस - अध्ययन
इनमें से कोई नहीं

विद्यार्थी के अधिगम का मूल्यांकन प्रमुख रूप से होना चाहिए

प्रत्येक शिक्षा सत्र के अंत में
सतत् एवं व्यापक प्रक्रिया से
वार्षिक प्रक्रिया से
प्रत्येक पाठ के अंत में

एक उत्तम परीक्षण की विशेषता नहीं है

वैद्यता
व्यावहारिकता
सीमितता
विश्वसनीयता

व्यक्तिनिष्ठता के मूल्यांकन क्या है ?

ऐसा परीक्षण जहाँ परीक्षक मूल्यांकन अपने ज्ञान के आधार पर करता है
ऐसा मूल्यांकन जहाँ व्यक्तित्व का प्रभाव महत्त्वपूर्ण भूमिका अदा करे , विषय - वस्तु गौण हो जाए
जब किसी व्यक्ति को सर्वेसर्वा बना दिया जाए
किसी विचार को निरपेक्ष दृष्टि के बदले सापेक्ष दृष्टि से देखना

शिक्षण कौशल की कुल संख्या है

22
23
24
26

शिक्षण कौशल को अध्यापक प्रयुक्त करता है

कक्षा के बाहर
कक्षा के अंदर
दोनों में ही
कोई नहीं

पुनर्बलन कौशल को हम क्यों प्रयुक्त करते हैं ?

शिक्षण का अग्रसरण हेतु
को प्रोत्साहन हेतु
अधिगम रुचिकर हेतु
उपरोक्त सभी

शिक्षण कौशलों का अर्थ है

शिक्षण क्रियाएँ
शिक्षण व्यवहार
अनुदेशनात्मक क्रियाएँ
उपरोक्त सभी

शिक्षण कौशलों के विकास व सुधार की प्रविधि है

अनुकरणीय प्रशिक्षण
अन्तः क्रिया विश्लेषण
प्रशिक्षण समूह
सूक्ष्म शिक्षण

शिक्षण व्यवहार की प्रमुख प्रविधि है

अनुकरणीय शिक्षण
सूक्ष्म शिक्षण
दोनों ही
कोई नहीं

शिक्षक व्यवहार सुधार का प्रत्यय दिया

एन . एल . गेज ने
फ्लैण्डर्स ने
ओवर ने
डी.जी. रामन ने

छात्रों द्वारा शिक्षकों के मूल्यांकन की सिफारिश की गई

रेड्डी समिति
राष्ट्रीय शिक्षा नीति
महरोत्रा समिति
अध्यापक शिक्षा परिषद्

छात्रों द्वारा शिक्षकों का मूल्यांकन किस सन् में शुरू हुआ ।

1957
1920
1948
1970

मूल्यांकन का क्षेत्र होता है

सीमित
संकुचित
व्यापक
इनमें से कोई नहीं

छात्रों द्वारा शिक्षकों का मूल्यांकन आरम्भ हुआ

संयुक्त राज्य अमेरिका
आस्ट्रेलिया
भारत में
इंग्लैण्ड

‘ लर्निंग इबी ’ क्या है ?

पुस्तक
नीति
पत्रिका
प्रतिवेदन

जॉन डीवी का कथन है

विद्यालय एक विशेष वातावरण है
विद्यालय एक साधारण वातावरण है
विद्यालय एक अनौपचारिक वातावरण है
विद्यालय एक तकनीकी वातावरण है

अधिगम का शिक्षा में योगदान है

व्यवहार परिवर्तन में
समायोजन में
नवीन अनुभव प्राप्त करने में
उपरोक्त सभी

उद्देश्य - केन्द्रित परीक्षा होती है

वस्तुनिष्ठ
निबंधात्मक
दोनों
कोई नहीं

मापन का कार्य है

सस्फल्य
पूर्वकथन
निदान
उपरोक्त सभी

मूल्यांकन की प्रकृति है

परिमाणात्मक
गुणात्मक
दोंनो ही
कोई नहीं

वैदिक युग में शिक्षा दी जाती थी

विद्यापीठ में
मन्दिर में
मठ में
गुरुकुल में

निर्देशन सेवाओं को सक्रिय व रोचक बनाने हेतु स्कूल में स्थापना की जानी चाहिए

शैक्षिक व्यवसायिक कक्ष
सामूहिक निर्देशन कक्ष
कैरियर कॉर्नर
उपर्युक्त में से कोई नहीं

कक्षा में सम्पन्न निर्देशन है

व्यक्तिगत निर्देशन
सामूहिक निर्देशन
व्यवसायिक परामर्श
परामर्श सेवा

मापन का शिक्षा में महत्त्व है

शिक्षण विधि बनाने में
मूल्यांकन करने में सहायक
योग्यता की मात्रा जानने में
उपर्युक्त सभी

Download PDF

पीडीएफ डाउनलोड करें और इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें


-->

Post a Comment

0 Comments

Promoted Posts