जैव विविधता एवं संरक्षण ( Biodiversity & its Conservation )

जैव विविधता सम्पूर्ण पादप , जीव - जन्तुओं को सम्मिलित करने के साथ ही इसमें पारिस्थितिकी तंत्र एवं उसके प्रक्रमों को सम्मिलित किया जाता है जो इसको नियंत्रित करते हैं

✷ जैव विविधता से तात्पर्य पृथ्वी पर व्याप्त जीवन की जैविक विविधता से है ।

✷ जैव विविधता के अन्तर्गत तीन प्रकार की विविधतायें होती हैं :

  • ( a ) आनुवंशिक विविधता
  • ( b ) प्रजातीय विविधता
  • ( c ) पारिस्थिति की विविधता ।
  • ✷ भारत की जैव विविधता के प्रादेशिक स्वरूप को दो भागों में अध्ययन किया जा सकता है :

  • ( i ) प्राकृतिक वनस्पति
  • ( ii ) जीव जन्तु की विविधता
  • ✷ हमारे देश की भौगोलिक परिस्थितियाँ , जलवायु तथा प्राकृतिक वनस्पतियों में अत्यधिक भिन्नता होने के कारण देश के विभिन्न भागों में विभिन्न प्रकार के वन्य जीव व पक्षी पाये जाते हैं ।

    ✷ मानव के लिए जन्तु - जगत का पारिस्थितिकीय , आर्थिक , और सौन्दर्यात्मक महत्त्व है |

    ✷ जैव विविधता की क्षति के कई कारण हैं । इसका प्रमुख कारण मानवीय गतिविधियाँ उत्तरदायी हैं जैसे बढ़ता उत्पादन , आवासीय हानि एवं उपभोग का बदलता स्वरूप ।

    ✷ जैव विविधता की दृष्टि से शीतोष्ण और गर्म वर्षा वन सर्वाधिक सम्पन्न माने जाते है ।

    ✷ प्रकृति तथा प्राकृतिक संसाधनों के अन्तर्राष्ट्रीय संगठन के उत्तर - जीविता सेवा आयोग द्वारा प्रकाशित रेड - डाटा बुक ( 1970 ) में विलुप्त प्रायः पौधों के नामों की सूची दी गई है ।

    ✷ वन्य प्राणियों की वांछित समष्टि उत्पन्न करने की कला वन्य प्राणी प्रबन्ध कहलाती है । वन्य प्राणी प्रबन्ध के उद्देश्य निम्नलिखित हैं -

  • ( i ) आखेट जाति का उत्पादन तथा सस्य
  • ( ii ) आखेटीय जाति का अनुरक्षण
  • ( iii ) फसलों , वनों , चरागाहों , पशुधन या मानव जीवन को वन्य प्राणियों द्वारा होने वाले क्षति का नियंत्रण ।
  • ✷ वन्य प्राणियों के परिरक्षण के कुछ बहुप्रचलित उपाय निम्नलिखित हैं -

  • ( i ) आखेट की संख्या को कानून द्वारा प्रतिबन्धित करना
  • ( ii ) कृत्रिम संग्रहण ( Artificial Stocking )
  • ( iii ) आवास - स्थल का सुधार ।
  • राष्ट्रीय उद्यान ( National Park ) - मुख्य रूप से समस्त मिले - जुले वन्य जीवों ( Wild animals ) के संरक्षण के लिए होता है ।

    अभयारण्य ( Sanctuary ) - बहुधा विशिष्ट जाति के संरक्षण के लिए निर्धारित होता है ।

    जैव मण्डल आरक्षित प्रदेश ( Biosphere Reserves ) - पूरा पारितंत्र ( Ecosystem ) समाहित होता है ।

    ✷ वन्य जीवों के संरक्षण हेतु जनसमर्थन लेने और जन आन्दोलन बनाने हेतु एक अक्टूबर से सात अक्टूबर तक प्रतिवर्ष वन्य जीव सप्ताह का आयोजन सारे राष्ट्र में किया जाता है ।

    ✷ वन्य प्राणियों तथा उनके आवासों को संरक्षण देने के उद्देश्य से देश भर में लगभग 516 अभयारण्य ( Sanctuaries ) तथा 100 नेशनल पार्क स्थापित किये गये हैं ।

    ✷ अन्तर्राष्ट्रीय संगठनों से द्विपक्षीय तथा बहुपक्षीय आधार पर वन्य प्राणी संरक्षण के अनेक कार्यक्रम देश में चल रहे हैं । इस दिशा में ' मानव ' एवं ' जैव मण्डल ( Man & Biosphere ) नाम का एक कार्यक्रम 1973 से यूनेस्को ने विश्व स्तर पर शुरू किया है । 1985 तक लगभग 65 राष्ट्रों में 243 से अधिक बायोस्फियर बनाये गये हैं ।

    ✷ वन्य प्राणियों की सुरक्षा के लिए 1972 में भारतीय वन्य प्राणी ( सुरक्षा ) अधिनियम ' के नाम से एक केन्द्रीय कानून बनाया गया ।

    ✷ भारत में प्राणी उद्यानों के प्रबन्धन की देखभाल करने के लिए केन्द्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण ( Central Zoo Authority ) स्थापित किया गया है ।

    ✷ बाघ परियोजना यानी ' प्रोजेक्ट टाइगर ' भारत में पशु संरक्षण प्रयासों की पहली परियोजना है ।

    ✷ विभिन्न वन्य जीवों की घटती संख्या पर चतुर्दिश बढ़ती चिन्ता को देखकर सरकार द्वारा विभिन्न जीवों के संरक्षण के लिए परियोजनायें बनायी गई हैं -

  • ( i ) बाघ परियोजना
  • ( ii ) गिरिसिंह अभयारण्य परियोजना
  • ( iii ) हिमालयी कस्तूरी परियोजना
  • ( iv ) हाथी परियोजना
  • ( v ) मगर प्रजनन परियोजना आदि
  • ✷ अन्तर्राष्ट्रीय संरक्षण संस्थाएँ — साइट्स , ट्रेफिक गेट आदि ।

    Download PDF
    275 KB

    Post a Comment

    0 Comments