Join Our Telegram Channel

Knowledge Booster - 12

Knowledge Booster-knowledge facts pdf

रंगास्वामी नाम किस खेल के साथ जुड़ा हुआ है ?

भारत में पुरुषों की राष्ट्रीय हॉकी प्रतियोगिता का नाम है रंगास्वामी कप । पचास के दशक में जब यह प्रतियोगिता मद्रास में शुरू हुई तो यह कप एक समाचार पत्र की ओर से अपने संपादक रंगास्वामी की स्मृति में दिया गया था ।

पत्रकारिता दिवस क्या है ?

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 3 मई को प्रेस स्वतंत्रता दिवस घोषित किया है , जिसे हम विश्व पत्रकारिता दिवस कहते हैं । 30 मई को हम हिंदी पत्रकारिता दिवस मनाते हैं । 30 मई 1826 को उदंत मार्तंड का प्रकाशन कोलकाता से शुरू हुआ था ।

माइक्रोफोन और माइक्रोवेब का आविष्कार किसने किया ?

माइक्रोफोन का आविष्कार पहले टेलीफोन वॉयस ट्रांसमीटर के रूप में हुआ था । इसका श्रेय एमाइल बाइनर को जाता है । उन्होंने 1876 में इसका आविष्कार किया था । माइक्रोफोन का इस्तेमाल टेलीफोन , टेपरिकॉर्डर , कराओके , हियरिंग एड , रेडियो , कंप्यूटर , टीवी वगैरह में होता है । माइक्रोवेब से आपका आशय शायद माइक्रोवब अवन से है । दोनों का कोई रिश्ता नहीं है । बहरहाल , वर्ष 1946 में पर्सी स्पेंसर नाम के एक इंजीनियर कोई शोधकार्य कर रहे थे । वह मैग्नेट्रॉन पर काम कर रहे थे । अचानक उनकी जेब में रखी कैंडी पिघल गई । उन्हें इसका कारण समझ नहीं आया । बाद में उन्होंने पॉपकॉर्न के दाने रखकर देखे तो वे फूल गए । इसके बाद उन्होंने मैग्नेट्रॉन ट्यूब के पास अंडा ले जाकर देखा । थोड़ी देर बाद अंडे के भीतर हलचल होने लगी । कुछ समय बाद वह पककर फट गया । इसके बाद पर्सी स्पेंसर और उनके साथियों ने यह निष्कर्ष निकाला कि अंडे के भीतर लो डेन्सिटी की माइक्रोवेब एनर्जी बन रही है । सिद्धांत यह बना कि अंडा पक सकता है , तो खाना भी पक सकता है । पहला माइक्रोवेब अवन टप्पन कंपनी ने वर्ष 1955 में बाजार में उतारा था ।

ओलंपिक खेलों के गोल्ड मैडल में कितना प्योर गोल्ड होता है ?

पहले यह बताना बेहतर होगा कि वर्ष 1 1896 और वर्ष 1900 के ओलंपिक खेलों में गोल्ड मैडल नहीं दिए गए । उनमें चांदी और तांबे के मैडल क्रमशः विजेता और उपविजेता को दिए गए । वर्ष 1904 में अमरीका के मिजूरी ओलंपिक में तीन मैडल का चयन शुरू हुआ । ओलंपिक के गोल्ड मैडल का आकार , डिजाइन और वजन बदलता रहा है । लंदन ओलंपिक में काफी बड़े आकार के मैडल दिए गए , जो कि 85 मिमी व्यास के थे । इनकी मोटाई सात मिमी थी । वर्ष 2016 में ब्राजील के रियो डि जेनेरो में होने वाले ओलंपिक खेलों के लिए 4 , 924 मैडल तैयार करने का काम वहां के सिक्के ढालने वाली सरकारी टकसाल को दिया गया है । अभी मैडल के साइज और वजन की सूचना नहीं है । मैडल तैयार करने के लिए अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक कमेटी के निर्देशों के अनुसार , सोने का मैडल भी चांदी में ढाला जाता है और फिर उस पर छह ग्राम सोने की प्लेटिंग होती है । चांदी का मैडल . 925 शुद्धता की चांदी का होता है और कांस्य पदक में तांबे , टिन और जस्ते की मिलावट होती है ।

क्या रेलगाड़ी के इंजन में टॉयलेट होते हैं ?

भारतीय रेलवे के इंजनों में अभी तक ना टॉयलेट नहीं होते थे , लेकिन अब अमरीकी कंपनी इलेक्ट्रोमोटिव डीजल और भारतीय रेलवे के अनुसंधान , विकास एवं अभिकल्प संस्थान आरडीएसओ ने मिलकर डब्ल्यूडीजी 5 नाम से जो इंजन तैयार किया है , उसमें एयरकंडिशनिंग और टॉयलेट की सुविधाएं हैं , जो कि इंजन चलाने वालों की दिक्कतों को कम करेंगी । देश में अभी बड़े स्तर पर इंजनों में टॉयलेट नहीं लग पाए हैं । भारतीय रेलगाड़ियों के सवारी डिब्बों में अभी तक ओपन टाइप टॉयलेट होते हैं , जो कि रेलवे के ट्रैक को खराब करते हैं । पिछले दो साल से रेलवे बजट में कोचों में बायो टॉयलेट लगाने का कार्यक्रम शुरू किया गया है । हालांकि यह काम अभी धीमी गति से चल रहा है ।

केसर क्या होता है ?

केसर वनस्पति है और इसकी खेती होती है । भारत का केसर दुनिया में सबसे अच्छा माना जाता है । भारत में केवल जम्मू कश्मीर में ही केसर की खेती होती है । कश्मीर के अंवतीपुरा के पंपोर और जम्मू संभाग के किश्तवाड़ इलाके में केसर की खेती की जाती है । केसर बोने के लिए खास जमीन की जरूरत होती है । ऐसी जमीन जहां बर्फ पड़ती हो और जमीन में नमी मौजूद रहती हो । जिस जमीन पर केसर बोया जाता है , वहां कोई और खेती नहीं की जा सकती । कारण यह है कि केसर का बीज हमेशा जमीन के अंदर ही रहता है । इस बीज को निकालकर उसमें दवाइयां और खाद मिलाकर फिर से बोया जाता है । यह बुआई जुलाई - अगस्त में की जाती है । केसर के फूल अक्टूबर - नवंबर में खिलने लगते हैं । जमीन में जितनी ज्यादा नमी होगी , केसर की पैदावार उतनी ही अच्छी होगी । केसर का फूल नीले रंग का होता है । नीले फूल के भीतर पराग की पांच पंखुड़ियां होती हैं । इन पांचों पंखुड़ियों में से तीन पंखुड़ियां तो लाल रंग की होती हैं और बीच की दो पंखुड़ियां पीले रंग की होती हैं । इनमें से केसरिया रंग की पंखुड़ी को ही असली केसर कहा जाता है ।

मानव के शरीर में सबसे छोटी हड्डी कौन सी है ?

मानव शरीर में सबसे छोटी हड्डी स्टेप्स ना है , जो कि कान में होती है । इस हड्डी की लंबाई लगभग 2 . 5 मिमी है । सबसे लंबी हड्डी फीमर बोन यानी जांघ की हड्डी होती है । इसकी लंबाई 19 - 20 इंच होती है ।

क्या पेंगुइन सामूहिक आत्महत्या करती है ?

हां, ऐसी खबरें तो मिली हैं कि अंटार्कटिक में पेंगुइन किसी बर्फीली चोटी पर खड़े होकर बड़ी संख्या में सागर में कूदकर अपनी जान दे रही हैं । वैसे जानवर उस तरह से आत्महत्या नहीं करते , जिस तरह से इंसान करते हैं । केवल वे अपनी मौत के समय खुद को ऐसी स्थिति में ले आते हैं कि जान चली जाए । मसलन खरगोश खुले में आ जाते हैं , ताकि कोई चील उन्हें उठाकर ले जाए । असम के पेंगुइन की मौतों के पीछे की वजह ग्लोबल वॉर्मिंग है या कोई और , यह कह पाना अभी मुश्किल है ।

ऑडिटोरियम में ग्रीन रूम को ग्रीन रूम क्यों कहते हैं ?

कहा जाता है कि वर्ष 1599 में लंदन के ब्लैकफायर्स थियेटर में मंच के ठीक पीछे उन कलाकारों के बैठने की व्यवस्था की गई , जिन्होंने कुछ समय के बाद मंच पर जाकर प्रस्तुति देनी थी । जिस कमरे में उन्हें बैठाया गया था , उस कमरे में हरे रंग की पुताई की गई थी । धीरे - धीरे इसका नाम ही ग्रीन रूम हो गया । इसी संदर्भ में यह भी बात कही जाती है कि मंच की रोशनी से कलाकारों की आंखें चौंधिया जाती थीं । ऐसे में कलाकारों की आंखों को आराम देने के लिए पुताई हरे रंग से की जाती थी । इस वजह से भी इसका नाम ग्रीन रूम पड़ गया । भारत में सबसे पहले ईमेल की सेवा कब शुरु हुई थी ? - सीमा जायसवाल , दिल्ली पंद्रह अगस्त 1995 को विदेश संचार 7 निगम ने देश में इंटरनेट सेवा की शुरुआत की थी । तभी से ईमेल की सेवा की भी शुरुआत हुई थी । इसके माध्यम से दूर दराज तक चंद सेकेंड में मेल भेजा जाता है ।

धरती से कितनी ऊपर जाने पर अंतरिक्ष शुरू होता है ?

हालांकि ऐसी कोई सीमा नहीं है , जहां से अंतरिक्ष की शुरुआत मानी जाए , लेकिन सामान्यतः समुद्र की सतह से 100 किमी की ऊंचाई के बाद हम अंतरिक्ष की शुरुआत मानने लगे हैं । संयुक्त राष्ट्र द्वारा वर्ष 1967 में पारित बाह्य अंतरिक्ष संधि में भी यही सीमा मानी गई है । इसे कामान रेखा के नाम से पहचाना जाता है ।

Download PDF Of Knowledge Booster - 12

आप सभी स्टूडेंट्स नीचे दिए गये डाउनलोड बटन पर क्लिक करके यह पीडीऍफ़ डाउनलोड कर सकते हो | और इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते हो |

Download PDF
199 KB

Post a Comment

0 Comments

Promoted Posts