Join Telegram Group

श्वसन ( Respiration )_One Liners For All Exams

Respiration In Hindi One Liners For All Exams

श्वसन क्रिया में ऑक्सीकृत होने वाले उच्च ऊर्जावान अणुओं को श्वसन के क्रियाधार कहते हैं । श्वसन में सबसे पहले उपयोग में लिया जाने वाला क्रियाधार ग्लूकोज ( कार्बोहाइड्रेट ) है ।

श्वसन दो प्रकार का होता है - वायुवीय श्वसन में कार्बोहाइड्रेट के पूर्ण ऑक्सीकरण से CO2 तथा जल बनते हैं जबकि अवायुवीय श्वसन में कार्बोहाइड्रेट के अपूर्ण ऑक्सीकरण से CO2 तथा एल्कोहल बनते हैं ।

ग्लाइकोलासिस अभिक्रिया कोशिका के कोशिका द्रव्य में सम्पन्न होती है । इसमें ग्लूकोज के एक अणु से पाइरूविक अम्ल के दो अणु बनते हैं तथा कुल 8ATP अणुओं का निर्माण होता है ।

क्रेब्स चक्र कोशिका के माइटोकॉण्ड्रिया में सम्पन्न होता है । इसमें पाइरूविक अम्ल के ऑक्सीकरण से CO2 तथा जल बनते हैं तथा कुल 30ATP अणुओं का निर्माण होता है ।

अनॉक्सी श्वसन में ग्लूकोज के अपूर्ण ऑक्सीकरण से CO2 तथा एल्कोहल बनता है एवं 2ATP के अणु बनते हैं ।

एसिटाइल CoA ग्लाइकोलाइसिस तथा क्रेब्स चक्र के बीच की योजक कड़ी है । एसिटाइल CoA क्रेब्स चक्र के अन्तिम उत्पाद ओक्सेलो एसिटिक अम्ल ( 4C ) के साथ जुड़कर क्रेब्स चक्र का प्रथम यौगिक सिट्रिक अम्ल ( 6C ) बनाता है ।

ETS तंत्र में एक NAD.H2 ) के प्रवेश करने पर 3ATP अणुओं का जबकि एक FAD.H2 के प्रवेश करने पर 2ATP अणुओं का निर्माण होता है । ETS तंत्र में कुल 34ATP अणु बनते हैं ।

ऑक्सी श्वसन की ग्लाइकोलाइसिस में बनने वाले NAD.H2 के दो अणु यदि मैलेट एस्परटेट शटल के द्वारा ETS तंत्र में प्रवेश करते हैं , तो कुल 38ATP अणुओं का निर्माण होता है । यदि NADH के दो अणु ग्लाइकोल फॉस्फेट शटल द्वारा प्रवेश करते हैं तो 36ATP अणुओं का निर्माण होता है ।

इलेक्ट्रॉन परिवहन तंत्र ( ETS ) में भाग लेने वाले एंजाइम्स माइटोकॉन्ड्रिया की भीतरी झिल्ली पर पाये जाने वाले F1 कणों में पाये जाते हैं ।

इलेक्ट्रॉन परिवहन श्रृंखला में इलेक्ट्रॉन , विभिन्न वाहकों द्वारा संकुल । से संकुल -IV तक पहुँचने पर ये ATP सिंथेज संकुल से जुड़कर ADP व अकार्बनिक फॉस्फेट से ATP का निर्माण करते हैं ।

लूई पाश्चर ने 1857 में सिद्ध किया कि एल्कोहॉलिक किण्वन यीस्ट कोशिकाओं की उपापचयी क्रियाओं द्वारा होता है । बुनकर ने 1897 में यीस्ट कोशिकाओं से जाइमेज एंजाइम को पृथक् किया था ।

श्वसन क्रिया में मुक्त होने वाली कार्बन डाईऑक्साइड ( CO2 ) तथा प्रयुक्त ऑक्सीजन ( O2 ) के आयतन के अनुपात को श्वसन गुणांक ( R.Q. ) कहते हैं । श्वसन गुणांक का मापन गेनोंग्स श्वसनमापी के द्वारा किया जाता है ।

श्वसन गुणांक का मान श्वसन में प्रयुक्त होने वाले क्रियाधारों की प्रकृति पर निर्भर करता है । श्वसन की दर 5 ° C से 30 ° C तापक्रम के मध्य लगातार बढ़ती है । इस रेंज के तापक्रम में प्रत्येक 10 ° C ताप बढ़ाने पर श्वसन की दर दुगुनी हो जाती है ।

सूखे बीजों में जल की मात्रा कम होने के कारण श्वसन की दर कम होती है । जल की उपस्थिति में बीजों में संचित कार्बोहाइड्रेट घुलनशील शर्करा में बदल जाता है जो श्वसन का मुख्य क्रियाधार है , यही कारण है कि अंकुरित बीजों में श्वसन की दर बढ़ जाती है ।

ETS में निम्न श्रृंखला को श्वसन श्रृंखला कहते हैं
NAD → FAD → CoQ → Cyt b → Cyt c → Cyt.a → Cyta3
को एंजाइम Q ( Co - Q ) का पूरा नाम यूबीक्यूनोन है ।

NAD का पूरा नाम Nicotinamide Adenine Dimucleotide है इसे को एंजाइम- I ( Co - I ) या DPN ( Diphosphopyridine Dinucleotide ) भी कहा जाता है । यह श्वसन क्रिया में हाइड्रोजन ग्राही की भांति कार्य करता है ।

NADP का पूरा नाम Nicotinamide Adenine Dinucleotide Phosphate है । इसे को एंजाइम -II ( Co - II ) या TPN ( Triphosphopyridine Nucleotide ) भी कहा जाता है । यह प्रकाश संश्लेषण क्रिया में हाइड्रोजन ग्राही की भाँति कार्य करता है ।

सूखे चारे के ढेर में आग का लग जाना , जीवाणुओं से श्वसन के समय निकली ऊर्जा के कारण होता है ।

विभज्योत्तक ( मेरीस्टेम ) में श्वसन दर सबसे अधिक , वर्धनकाल में स्थिर जबकि वृद्धावस्था में सबसे कम होती है ।

महत्वपूर्ण प्रश्नोत्तर

ग्लाइकोलाइसिस अभिक्रिया द्वारा ग्लूकोज के एक अणु से पाइरुविक अम्ल के कितने अणुओं का निर्माण होता है । पाइरुविक अम्ल के दो अणुओं का

EMP परिपथ का अन्तिम उत्पाद का नाम लिखिए । पाइरुविक अम्ल

श्वसन अभिक्रिया में ग्लाइकोलाइसिस व क्रेब्स चक्र को जोड़ने वाली अभिक्रिया का नाम लिखिए । एसीटिल को एन्जाइम ए के निर्माण की अभिक्रिया जिसे योजक या प्रवेश अभिक्रिया भी कहते हैं ।

श्वसन क्रिया किसे कहते हैं । श्वसन एक जैविक क्रिया है , जिसमें खाद्य पदार्थों का ऑक्सीकरण होकर कार्बन डाईऑक्साइड एवं जल का निर्माण होता है तथा ऊर्जा मुक्त होती है ।

प्लावी श्वसन किसे कहते हैं । ब्लेकमैन के अनुसार , कार्बोहाइड्रेट से होने वाले श्वसन को प्लावी श्वसन ( Floating respiration ) कहते हैं ।

जीवद्रव्यी श्वसन किसे कहते हैं ? प्रोटीन से होने वाले श्वसन को जीवद्रव्यी श्वसन ( Protoplasmic respiration ) कहते हैं । इस प्रकार का श्वसन भूखमरी व रोगों के कारण हो सकता है ।

ऑक्सी श्वसन किसे कहते हैं ? यह श्वसन की सामान्य विधि है जिसमें ऑक्सीजन की उपस्थिति में कार्बनिक पदार्थों का जल तथा कार्बन डाईऑक्साइड में पूर्ण अपघटन होता है । सभी जन्तुओं तथा अधिकांश पादपों में श्वसन की यही विधि पायी जाती है

अनॉक्सी श्वसन किसे कहते हैं ? जब कार्बनिक पदार्थों का अपघटन ( ऑक्सीकरण ) ऑक्सीजन की अनुपस्थिति में होता है । इसमें कार्बनिक पदार्थों का अपूर्ण ऑक्सीकरण होता है व ईथाइल एल्कोहॉल अथवा लेक्टिक अम्ल बनता है ।

क्रेब्स चक्र को और किन नामों से जाना जाता है ? ' त्रिकार्बोक्सिलिक अम्ल चक्र एवं सिट्रिक अम्ल चक्र ।

सम्पूर्ण क्रेब्स चक्र के दौरान बनने वाले एकमात्र पाँच कार्बन परमाणु वाले अम्ल का नाम लिखिए । α - कीटोग्लूटेरिक अम्ल

श्वसन में सबसे पहले उपयोग में लिया जाने वाले क्रियाधार का नाम लिखिए । हैक्सोज शर्करा ( कार्बोहाइड्रेट )

अनॉक्सी या अवायुश्वसन को और किस नाम से जाना जाता है ? अंतरणुक श्वसन ( Intermolecular Respiration )

ऊर्जा की मुद्रा किसे कहा जाता है ? ATP को ।

ग्लाइकोलाइसिस की क्रिया कहाँ सम्पन्न होती है ? कोशिकाद्रव्य में ।

EMP पथ का नाम किन वैज्ञानिकों के नाम पर रखा गया है ? GEmbden , Otto Meyerhoff और J.Parmas

जब NADH + H+ के दो अणु ग्लिसरॉल फॉस्फेट शटल द्वारा माइटोकॉण्ड्रिया में प्रवेश करते हैं तो ग्लूकोज के एक अणु से ऑक्सी श्वसन द्वारा कुल कितने ATP बनते हैं ? ATP के 36 अणु

ETS में इलेक्ट्रॉन का अन्तिम ग्राही कौन होता है ? ऑक्सीजन

NADH + H+ एवं FADH2 से कितने ATP अणुओं का निर्माण होता है ? NADH + H+ से 3ATP व FADH2 से 2ATP बनते हैं ।

किण्वन की प्रक्रिया किसमें पायी जाती है ? अधिकांश जीवाणुओं व कवकों में ।

एन्टनर डूओडोरोफ पथ का अध्ययन सबसे पहले किस जीव में किया गया ? स्यूडोमोनास नामक जीवाणु में ।

किस क्रियाधार के लिए श्वसन गुणांक का मान एक से अधिक होता है ? कार्बोक्सिलिक अम्लों का ।

अवायवीय श्वसन में श्वसन गुणांक का मान कितना होता है ? अनन्त ।

किस वैज्ञानिक ने अपने प्रयोगों द्वारा यह सिद्ध किया कि CO2 की अधिकता से रंध्र बंद होने से O2 के अभाव में श्वसन दर कम हो जाती है । हीथ ( Heath ) ने ।

ग्लाइकोलाइसिस का अन्तिम उत्पाद क्या है ? पाइरूविक अम्ल ( CH3.CO.COOH

ऑक्सी श्वसन कोशिका में किस स्थल पर सम्पन्न होता है ? माइटोकॉन्ड्रिया में ।

क्रेब्स चक्र को टी.सी.ए. चक्र क्यों कहा जाता है ? क्रेब्स चक्र की शुरूआत सिट्रिक अम्ल से होती है , जिसमें तीन कार्बोक्सिलिक समूह ( -COOH ) होते हैं । इसलिए इसे ट्राई कार्बोक्सिलिक एसिड चक्र ( TriCarboxylic Acid Cycle = TCA ) कहते हैं ।

ग्लूकोज के ऑक्सीकरण के वैकल्पिक परिपथ का नाम बताइये । पेन्टोज फॉस्फेट पथ ( Pantose Phosphate Path - PPP )

जीवद्रव्यी श्वसन से आप क्या समझते हैं ? जब श्वसन क्रिया में प्रोटीन्स का क्रियाधार ( Substrate ) के रूप में उपयोग होता है , तो इसे प्रोटोप्लाज्मिक या जीवद्रव्यो श्वसन कहते

किण्वन किसे कहते हैं ? जीवाणु तथा कवकों में होने वाला अनॉक्सी श्वसन जिसमें ग्लूकोज के अपूर्ण ऑक्सीकरण से CO2 गैस तथा एल्कोहल ( C2H5OH ) बनते हैं , किण्वन कहलाता है ।

श्वसन के क्रियाधारों से क्या अभिप्राय है ? श्वसन क्रिया में ऑक्सीकृत होने वाले उच्च ऊर्जावान अणुओं को श्वसन के क्रियाधार ( Respiratory substrate ) कहते हैं । जैसे कार्बोहाइड्रेट , वसा , प्रोटीन आदि के अणु ।

ग्लूकोज अणु के पूर्ण ऑक्सीकरण पर बनने वाले अन्तिम उत्पादों के नाम लिखो । CO2 , H2O ऊर्जा ।

ग्लाइकोलाइसित में ऊर्जा का शुद्ध लाभ कितना होता है ? 8ATP

जीवद्रव्य श्वसन में कौनसा पदार्थ श्वसन क्रियाधार के रूप में काम आता है ? प्रोटीन

क्रेब्स चक्र में बनने वाले पहले एवं एकमात्र पाँच कार्बन परमाणु वाले यौगिक का नाम लिखिए । α - कीटोग्लूटेरिक अम्ल ।

ऐसे पदार्थ ( क्रियाधार ) का नाम लिखिए जिसके श्वसन गुणांक का मान एक से कम होता है ? प्रोटीन ।

श्वसन का Q10 मान कितना होता है ? दो ।

पाइरूविक अम्ल का एसीटिल कोएन्जाइम A में रूपान्तरण कहाँ सम्पन्न होता है ? माइटोकॉन्ड्रिया के मेट्रिक्स में ।

क्रेब्स चक्र कहाँ सम्पन्न होता है ?माइटोकॉन्ड्रिया में ।

श्वसन गुणांक को परिभाषित कीजिए । श्वसन क्रिया में निर्मुक्त CO2 गैस के आयतन तथा प्रयुक्त O2 गैस के आयतन के अनुपात को श्वसन गुणांक ( Respiratory Quotient = RO ) कहते हैं ।

अवायुवीय श्वसन में श्वसन गुणांक अनन्त क्यों होता है ? अवायुवीय श्वसन में CO2 गैस तो निर्मुक्त होती है लेकिन O2 गैस का अवशोषण नहीं होता है । अत : O2 गैस के अभाव के कारण श्वसन गुणांक का मान अनन्त होता है ।

ग्लाइकोलाइसिस व क्रेब्स चक्र की योजक कड़ी किसे कहते है ? एसिटाइल CoA को ।

अंकुरित अरण्डी के बीजों का श्वसन गुणांक कितना होता है ? अंकुरित अरण्डी के तैलीय बीजों में श्वसन क्रियाधार पदार्थ वसा होती है तथा वसा का श्वसन गुणांक इकाई से कम ( 0.7 ) होता है ।

केमीऑस्मोटिक सिद्धान्त का प्रतिपादन किसने किया था ? पीटर मिटचेल ।

श्वसन को प्रभावित करने वाले प्रमुख कारक कौन - कौन से है ? तापमान , ऑक्सीजन , जल , प्रकाश , कार्बन डाई ऑक्साइड , श्वसनीय क्रियाधार ( सब्स्टेंट ) व जीवद्रव्य की सक्रियता ।

किण्वन से बनने वाले संभावित उत्पाद कौन - कौनसे है ? एल्कोहॉल , लेक्टिक अम्ल , एसीटिक अम्ल , ब्यूटाइरिक अम्ल आदि ।

Download PDF

Download PDF
154 KB
Due to some technical error, you are not able to download PDF at this time. Still You can download PDF in our telegram channel.

Post a Comment

0 Comments

Promoted Posts