रेलवे से सम्बंधित सामान्य ज्ञान

railway hindi gk pdf download

भारतीय रेलवे गेज

ब्रॉड गेज 5 फीट 6 इंच 1.676 मीटर
मीटर गेज 3.33 फीट 1 मीटर
नैरो गेज 2.6 फीट 0.762 मीटर
स्पेशल गेज 2.031 फीट 0.610 मीटर

रेल इंजन निर्माण केन्द्र

चितरंजन लोकोमोटिव वर्क्स , चितरंजन ( विद्युत इंजन निर्माण )

डीजल लोकोमोटिव वर्क्स , वाराणसी ( डीजल इंजन निर्माण )

डीजल कम्पोनेन्ट वर्क्स , पटियाला ( डीजल इंजन के पुर्जे )

टाटा इंजीनियरिंग एण्ड लोकोमोटिव कम्पनी लिमिटेड , चितरंजन ( डीजल इंजन निर्माण )

डीजल लोकोमोटिव कम्पनी , जमशेदपुर ( डीजल इंजन निर्माण )

भारत हैवी इलेक्ट्रिकल लिमिटेड ( भेल ) , भोपाल ( विद्युत इंजन निर्माण

रेल डिब्बे निर्माण केन्द्र

इन्टीग्रल कोच फैक्ट्री , पैराम्बूर ( तमिलनाडु )

रेल कोच फैक्ट्री , कपूरथला ( पंजाब )

भारत अर्थमूवर्स लिमिटेड , बंगलुरू ( कर्नाटक )

व्हील एण्ड एक्सेल प्लांट , बंगलुरू ( कर्नाटक )

जेसप एण्ड कम्पनी लिमिटेड , कोलकाता

माडर्न रेल कोच फैक्ट्री , रायबरेली


स्वतंत्र भारत के प्रथम रेलमंत्री आसफ अली थे ।

देश की पहली महिला रेलमंत्री ममता बनर्जी है ।

भारत की सबसे तेज चलने वाली रेलगाड़ी शताब्दी एक्सप्रेस है जो सर्वप्रथम 10 जुलाई , 1988 को नई दिल्ली झाँसी के मध्य चली थी ।

राजधानी एक्सप्रेस सर्वप्रथम 1 मार्च , 1969 को नई दिल्ली और हावड़ा के बीच चली थी ।

कोंकण रेल ( स्थापना - 26 जनवरी , 1998 ) परियोजना भारतीय रेलवे की बहुउद्देशीय और वृहत्तम रेल परियोजना है , जिसकी लम्बाई 760 कि . मी . ( रोहा से मंगलौर तक ) है ।

कोंकण रेल ( मुख्यालय पणजी ) महाराष्ट्र , गोवा , कर्नाटक और केरल को जोड़ती है ।

सर्वप्रथम वातानुकूलित रेलगाड़ी मुम्बई और बड़ौदा के बीच 1936 ई . में शुरू की गई थी ।

रेल कर्मचारी बीमा योजना 1977 में लागू हुआ ।

रेलयात्री बीमा योजना 1994 में प्रारंभ हुई ।

दक्षिण - पूर्व रेलवे को ब्लू चिप कहा जाता है ।

पहला प्लेटफार्म टिकट लाहौर में जारी हुआ था ।

रेलवे में प्रथम कम्प्यूटरीकृत यात्री आरक्षण व्यवस्था 15 नवम्बर , 1985 को नई दिल्ली में हुआ ।

भारतीय रेलवे में सर्वप्रथम तत्काल आरक्षण सेवा 20 दिसम्बर , 1997 को प्रारंभ की गई ।

पहली वातानुकूलित डबल डेकर ट्रेन 1 अक्टूबर , 2011 को हावड़ा - धनबाद के बीच चली ।

विश्व में प्रथम रेल इंगलैंड में 27 सितम्बर , 1825 को ( स्टॉकटन से डार्लिंगटन ) चली थी ।

विश्व का सबसे लम्बा रेलमार्ग ‘ ट्रांस साइबेरियन ’ ( लेनिनग्राड से ब्लाड़ीवॉस्टक तक ) रूस में है ।

विश्व का सबसे पुराना रेलवे स्टेशन लिवरपुल हैं ।

विश्व की बड़ी रेल सुरंग सीकन ( जापान ) है ।

विश्व में पहली मेट्रो रेल लंदन में 10 मई , 1963 को चली थी ।

भारतीय रेल एशिया में सबसे बड़ी तथा विश्व में दूसरी सबसे बड़ी रेल व्यवस्था है ।

भारतीय रेल का मूलमंत्र सुरक्षा , संरक्षा एवं समय पालन है ।

भारत में सर्वप्रथम रेल व्यवस्था की शुरूआत 16 अप्रैल 1853 ई० में मुम्बई से थाणे ( 34 km ) के बीच लॉर्ड डलहौजी के शासनकाल में प्रारंभ हुई थी जिसका नाम ‘ ब्लैक ब्यूटी ’ था ।

देश में प्रथम विद्युत रेल 3 फरवरी , 1925 को मुम्बई ( V.T. ) से कुर्ला के बीच चलाई गयी थी ।

डेक्कन क्वीन बिजली चालित प्रथम ट्रेन थी ।

भारतीय रेलवे एक्ट 1890 ई० में पारित हुआ ।

रेलवे , भारत का सबसे बड़ा नियोक्ता संस्थान है ।

भारतीय रेलवे बोर्ड की स्थापना मार्च , 1905 ई० में ( लॉर्ड कर्जन के समय ) की गई थी ।

भारत की पहली मोनो रेल मुम्बई में 1 फरवरी , 2014 को प्रारंभ हुई ।

भारतीय रेलवे में 69 डिवीजन ( मंडल ) है ।

भारतीय रेलवे को 17 जोनों में बाँटा गया है ।

रेलवे में भर्ती हेतु 21 रेलवे भर्ती बोर्ड है ।

भारतीय रेलवे के प्रतीक ( Logo ) में 17 तारे है ।

रेल शताब्दी समारोह 1953 में शुरू हुआ ।

16 अप्रैल को रेल दिवस तथा 10 - 16 अप्रैल को रेल सप्ताह के रूप में मनाया जाता है ।

भारत में सिर्फ महिलाओं के लिए एकमात्र ट्रेन मुम्बई के चर्चगेट से बोरीबली तक चलती है ।

इन्टीग्रल कोच फैक्टरी ( पैराम्बूर , तमिलनाडु ) स्विट्जरलैंड के मॉडल पर आधारित है ।

रेलवे स्टाफ कॉलेज बड़ौदा में स्थित है ।

रेलवे में आमदनी का बड़ा जरिया माल भाड़ा है ।

रेलवे सुरक्षा बल ( RPF ) 1882 को गठित हुआ ।

देश में उत्तर रेलवे की लम्बाई सबसे अधिक तथा पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे की सबसे कम है ।

भारत का सबसे लम्बा रेलवे पुल ( सेतु ) वेम्बानाड रेल सेतु ( कोच्चि , केरल ) तथा सबसे ऊँचा रेलवे स्टेशन घुम ( प . बंगाल ) है ।

भारतीय रेलवे में प्रथम महिला रेलवे ड्राईवर सुरेखा यादव तथा प्रथम महिला डीजल रेल इंजन ड्राईवर सुश्री मुमताज कत्थावाला है ।

समझौता एक्सप्रेस भारत - पाकिस्तान तथा मैत्री एक्सप्रेस भारत - बांग्लादेश के बीच चलती है ।

रेल दुर्घटना सर्वप्रथम 25 जनवरी , 1869 को भोडघाट ( पूना मुम्बई मार्ग ) में हुआ था ।

रेल दुर्घटना के कारण इस्तीफा देने वाले भारत के प्रथम रेल मंत्री लाल बहादुर शास्त्री थे ।

देश का सबसे पुराना भाप इंजन ‘ फेयरी क्वीन ’ है जिसका निर्माण 1855 में हुआ था ।

जॉर्ज स्टीफेन्सन रेलवे का पितामह कहलाते है ।

शयनयान - ॥ डिब्बे में कुल 72 / 78 बर्थ होते है ।

भारतीय रेल का राष्ट्रीयकरण 1950 में हुआ ।

देश में पहली मेट्रो रेल 24 अक्टूबर , 1984 को कोलकाता में दमदम से टॉलीगंज तक दूसरी मेट्रो रेल सेवा दिल्ली में 24 दिसम्बर , 2002 को शहादरा से तीस हजारी के बीच प्रारंभ हुई ।

IRCTC का आशय है - Indian Railway Catering and Tourism Corporation .

देश में सबसे लम्बी दूरी तय करने वाली रेलगाड़ी विवेक एक्सप्रेस है , जो डिब्रूगढ़ से कन्याकुमारी ( 4286 किमी . ) जाती है ।

रेलवे बजट , आम बजट से अलग 1924 - 25 में एकवर्थ समिति के सिफारिश पर हुआ ।

प्रथम रेल बजट को जॉन मथाई ने पेश किया ।

भारत का सबसे लम्बा रेलवे प्लेटफार्म उत्तर प्रदेश का गोरखपुर ( 1366.33 मी० ) है ।

सबसे लम्बी रेल सुरंग पीर पंजाल या बनिहाल रेल सुरंग ( जम्मू - कश्मीर , 11 . 215 किमी . ) है ।

भारत का सबसे बड़ा रेलवे यार्ड मुगलसराय ( उत्तर प्रदेश ) में है , जो पूर्व मध्य रेलवे में है ।

भारतीय रेलवे का ‘ राष्ट्रीय रेल संग्रहालय ’ नई दिल्ली तथा क्षेत्रीय रेल संग्रहालय मैसूर में है ।

भारतीय उपमहाद्वीप में पहली रेलगाड़ी बम्बई से थाणे के बीच चली , जिसने 21 मील की दूरी तय की थी ।

औपचारिक उद्घाटन समारोह का आयोजन 16 अप्रैल , 1853 को हुआ , जब लगभग 400 अतिथियों के साथ 14 सवारी डिब्बों वाली रेलगाड़ी सायं 3.30 बजे “ एक विशाल जनसमूह की करतल ध्वनि और 21 तोपों की सलामी के बीच बोरीबंदर से रवाना हुई । प्रथम यात्री गाड़ी 15 अगस्त , 1854 को 24 मील की दूरी तय करते हुए हावड़ा से हुगली स्टेशनों के बीच चलाई गई । इस प्रकार , ईस्ट इंडियन रेलवे का पहला सेक्शन यात्री यातायात के लिए चालू हुआ , जिससे भारतीय उपमहाद्वीप के पूर्वी हिस्से में रेल यातायात की शुरुआत हुई ।

दक्षिण में पहली रेल लाइन 1 जुलाई , 1856 को मद्रास रेलवे कंपनी ने चालू की । इस लाइन पर 63 मील की दूरी तय करते हुए वयासरपांडी और वालाजाह रोड ( आर्कोट ) के बीच पहली रेलगाड़ी चली । उत्तर में 3 मार्च , 1859 को इलाहाबाद से कानपुर से बीच 119 मील की दूरी तक पहली रेल लाइन बिछाई गई । 19 नवंबर , 1875 को हाथरस रोड और मथुरा कैंटोन्मेंट के बीच पहला सेक्शन यातायात के लिए खोला गया ।

भारतीय रेलवे पर प्रतिदिन 11,000 गाड़िया चलाई जाती हैं , जिनमें 7,000 यात्री गाड़ियां हैं ।


Also Read - हिन्दू विवाह : एक धार्मिक संस्कार


Download PDF
227 KB

If Download Not Start Click Here

Post a Comment

0 Comments