आयतनी विश्लेषण से सम्बन्धित प्रश्न :Viva Questions For 12th Class Chemistry Practical

Viva Questions For 12th Chemistry Practical

आयतनी विश्लेषण किसे कहते हैं ?
मात्रात्मक विश्लेषण के अन्तर्गत अभिकर्मकों को अयन के रूप में लेकर यह निश्चित किया जाता है कि आयतानात्मक दृष्टिकोण से वे किस अनुपात में अभिक्रिया करते हैं , उसे आयतनी विश्लेषण कहते हैं ।

अनुमापन किसे कहते हैं ?
एक अज्ञात विलयन की ज्ञात विलयन के साथ सान्दता ज्ञात करने की विधि को अनुमापन कहा जाता है ।

अनुमापक तथा अनुमाप्य किसे कहते हैं ?
जिस विलयन की सान्द्रता ज्ञात करनी होती है , उसे अनुमाप्य ( Titrand ) तथा जिस विलयन की सहायता से । अज्ञात विलयन की सान्द्रता ज्ञात करते हैं , उसे अनुमापक ( Tirrant ) कहते हैं ।

मानक विलयन किसे कहते हैं ?
वह विलयन जिसकी सान्द्रता ज्ञात हो , मानक विलयन या ज्ञात विलयन कहा जाता है ।

प्राथमिक मानक किसे कहते हैं ?
वे पदार्थ जिनका मानक विलयन उसकी यर्थाथ मात्रा को सीधे तोलकर , विलायक में घोलकर बनाया जा सकता है , प्राथमिक मानक कहलाते हैं । उदाहरण - पौटेशियम डाईक्रोमेट , फैरस अमोनियम सल्फेट , क्रिस्टलीय ऑक्सेलिक अम्ल आदि ।

माध्यमिक विलयन किसे कहते हैं ?
जब ज्ञात ( मानक ) विलयन तथा अज्ञात विलयन दोनों ही एक पदार्थ के बने होते हैं , मानक विलयन की सहायता से अज्ञात विलयन की सान्द्रता ज्ञात करने के लिए एक अन्य पदार्थ के विलयन का उपयोग करते हैं जो इन दोनों विलयनों से मात्रात्मक रूप से अभिक्रिया कर सके । इस विलयन को माध्यमिक विलयन कहा जाता है ।

अज्ञात विलयन किसे कहते हैं ?
वह विलयन जिसकी सान्द्रता अज्ञात हो , अज्ञात विलयन कहलाता है ।

सान्द्रता किसे कहते है ?
किसी विलयन के निश्चित आयतन में विद्यमान पदार्थ की यर्थाथ मात्रा विलयन की सान्द्रता कहलाती है ।

सान्द्रता का मात्रक क्या है ?
सान्द्रता सामान्यतया ग्राम प्रति लीटर ( gL-1 ) में व्यक्त करते हैं ।

नार्मलता किसे कहते हैं ?
एक लीटर विलयन में उपस्थित विलेय ( पदार्थ ) की ग्राम तुल्यांकी मात्रा विलयन की नार्मलता कहलाती है ।

नार्मल विलयन किसे कहते हैं ?
एक लीटर विलयन में पदार्थ ( विलेय ) का एक ग्राम तुल्यांकी भार घुला हो , तो विलयन , नार्मल विलयन कहलाता है ।

नार्मलता को किसके द्वारा व्यक्त किया जाता
N के द्वारा ।

सान्दता ज्ञात करने का व्यंजक ?
सान्द्रता ( ग्राम / लीटर ) = नार्मलता × तुल्यांकी भार

मोलरता किसे कहते हैं ?
एक लीटर विलयन में उपस्थित विलेय ( पदार्थ ) के ग्राम अणु अर्थात् मोलों की संख्या उस विलयन की मोलरता कहलाती है । इसे M द्वारा प्रदर्शित किया जाता है ।

सान्द्रता व मोलरता में सम्बन्ध दीजिए ?
सान्द्रता ( ग्राम / लीटर ) = मोलरता × अणु भार

तुल्यांकी भार किसे कहते है ?
किसी पदार्थ का तुल्यांकी भार उसके भार भागों की वह संख्या है जो हाइड्रोजन के 1,008 भार भाग , ऑक्सीजन के 8 भार भाग या क्लोरीन के 35.5 भार भाग से संयुक्त हो सके या उनके यौगिकों में से इन भारों को विस्थापित कर सके ।

star
N / 30
से क्या तात्पर्य हैं ?
विलयन के 1 लीटर पदार्थ के तुल्यांकी भार का
1 / 30
अंश विलेय है ।

ग्राम तुल्यांकी भार किसे कहते हैं ?
तुल्यांकी भार यदि ग्रामों में व्यक्त किया जाए तो इसे ग्राम तुल्यांकी भार कहा जाता है ।

मोललता किसे कहते हैं ?
1000 ग्राम विलायक में घुले विलेय के ग्राम अणुओं की संख्या विलयन की मोललता कहलाती है । |

तुल्य बिन्दु किसे कहते हैं ?
अनुमापन में जिस बिन्दु पर अनुमापन तथा अनुमाष्य | की अभिक्रिया पूर्ण होती है , उसे तुल्य बिन्दु कहते है ।

अन्तिम बिन्दु क्या होता हैं ?
जिस बिन्दु पर अभिक्रिया पूर्ण होती है तथा रंग परिवर्तन दिखाई देता है , उसे अंतिम बिन्दु कहते हैं । अनुमापन में अन्तिम बिन्दु तुल्य बिन्दु के पश्चात् ही दिखाई देता है ।

तुल्य बिन्दु और अंतिम बिन्दु में क्या अन्तर है ?
तुल्य बिन्दु और अंतिम बिन्दु में अनुमापन की एक बूंद का अन्तर होता है ।

अनुमापन कितने प्रकार के होते हैं ?
अनुमापन निम्न चार प्रकार के होते है - ( 1 ) अम्ल क्षार अनुमापन ( 2 ) ऑक्सीकरण - अपचयन अनुमापन ( 3 ) अवक्षेपण अनुमापन ( 4 ) संकुल मितीय अनुमापन

पौटेशियम डाईक्रोमेट व फेरस अमोनियम सल्फेट के मध्य अनुमापन किस प्रकार होता का है ?
ऑक्सीकरण - अपचयन अनुमापन ।

पौटेशियम डाईक्रोमेट व फेरस अमोनियम सल्फेट के मध्य अनुमापन में किसका ऑक्सीकरण व किसका अपचयन होता हैं ?
फेरस अमोनियम सल्फेट का ऑक्सीकरण तथा पौटेशियम डाईक्रोमेट का अपचयन होता है ।

उपचयन ( ऑक्सीकरण ) अपचयन अनुमापन से क्या अर्थ है ?
उपचयन अपचयन अनुमापन वे है जिनमें एक विलयन का उपचयन ( ऑक्सीकरण ) तथा दूसरे का अपचयन होता है ।

द्वि - अनुमापन से क्या लाभ हैं ?
द्वि - अनुमापन में पिपेट के आयतन की त्रुटि समाप्त हो जाती है ।

द्वि - अनुमापन से आप क्या समझते हैं ?
माध्यमिक विलयन को प्रयोग में लाते हुए ज्ञात विलयन अज्ञात विलयन की सान्द्रता ज्ञात करना , द्वि - अनुमापन कहलाता है ।

ऑक्सीकरण किसे कहते हैं ?
ऑक्सीकरण वह अभिक्रिया है जिसमें इलेक्ट्रॉन की हानि होकर अथवा उनकी संख्या में कमी होकर परमाणु या आयन की संयोजकता में वृद्धि होती है ।

अपचयन किसे कहते हैं ?
वह अभिक्रिया जिसमें एक या अधिक इलेक्ट्रॉन ग्रहण करके या उनकी संख्या में वृद्धि होकर परमाणु या आयन की संयोजकता में कमी होती है । |

अम्ल किसे कहते हैं ?
वे पदार्थ जो नीले लिटमस को लाल कर दें तथा जल में घोलने पर हाइड्रोनियम आयन ( H3O+ ) प्रदान करे ।

क्षार किसे कहते हैं ?
जल में विलय भस्मों को अथवा जो लाल लिटमस को नीला कर दें अथवा जल में घोलने पर हाइड्राक्सिल आयन दें , क्षार कहलाते है ।

सूचक किसे कहते हैं ?
अनुमापन में वे पदार्थ जो रंग परिवर्तन कर अभिक्रिया के पूर्ण होने की सूचना देते है , सूचक कहलाते है ।

फेरस अमोनियम सल्फेट व पौटेशियम डाइक्रोमेट अनुमापन में प्रयुक्त सूचक का नाम क्या हैं ?
N - फेनिल एन्थ्रेनिलिक अम्ल

फेरस अमोनियम सल्फेट व पौटेशियम डाइक्रोमेट अनुमापन में अन्तिम बिन्दु पर क्या रंग परिवर्तन होता हैं ?
हल्का हरा से बैंगनी ।

फेरस अमोनियम सल्फेट व पौटेशियम डाइक्रोमेट अनुमापन में यह रंग परिवर्तन क्यों होता हैं ?
सूचक N - फेनिल एन्थ्रेनिलिक अम्ल के बेन्जेनोड रूप से क्विनोनोइड रूप में बदलने के कारण परिवर्तन होता है ।

उक्त अनुमापन में हरा रंग किसके कारण आता हैं ?
फेरस आयनो के कारण ।

N - फेनिल एन्थ्रेनिलिक अम्ल का सूत्र दीजिए ।
N - फेनिल एन्थ्रेनिलिक

फैरस अमोनियम सल्फेट का सूत्र एवं सामान्य नाम दीजिए ?
FeSO4 ( NH4 )2.SO4.6H2O तथा मोहर लवण ।

फेरस सल्फेट का सूत्र एवं साधारण नाम क्या है ?
FeSO4 तथा हरा कसीस

फेरस अमोनियम सल्फेट के स्थान पर क्या फेरस सल्फेट लिया जा सकता हैं ? और यदि नहीं तो क्यों ?
फेरस सल्फेट वायु में रखने पर फैरिक सल्फेट में ऑक्सीकृत हो जाता है । अतः इसका मानक विलयन नहीं बनाया जा सकता । यदि इसका विलयन बनाना ही पड़े तो उसकी सान्द्रता पहले ही ज्ञात कर लेनी चाहिए ।

अनुमापन में प्रयुक्त उपकरणों का नाम दीजिए ?
ब्यूरेट , पिपेट , कोनिकल फ्लास्क , बिकर , स्टैण्ड , टाईल , पिंच क्लिप आदि ।

ब्यूरेट में नीचे लगी रबर ट्यूब के साथ छोटी काँच के ट्यूब को क्या कहा जाता है ?
नोजल या जेट ।

पिपेट के मध्य 20 ml , 27°C लिखा होता है । इसका क्या तात्पर्य है ?
27°C ताप पिपेट में निश्चित चिन्ह तक 20 ml विलयन आता है ।

अनुमापन के समय ब्यूरेट का लम्बवत् होना अनिवार्य है , क्यों ?
तिरछा रहने पर द्रव का तल ‘ अर्धचन्द्राकार ’ टेढ़ा हो जाएगा और सही पाठ्यांक नहीं पढ़ा जा सकेगा ।

रंगीन द्रवों में कौनसे मेनिसकस का पाठ्यांक लेना चाहिए ?
ऊपरी मेनिसकस ।

रंगहीन द्रवों में कौनसे मेनिसकस का पाठ्यांक लेना चाहिए ?
निचला मेनिसकस ।

स्टैण्ड के साथ ‘ टाइल ’ क्यों रखी जाती है ?
अन्तिम बिन्दु पर रंग परिवर्तन सुविधा से दिखने हेतु ।

टाइल किस से बनी होती है व इसका रासायनिक सूत्र दीजिए ?
टाइल चीनी मिट्टी की बनी होती है - Al2O3 , 2SiO2 . 2H2O

फेरस अमोनियम सल्फेट में कितने आयन है ?
तीन आयन हैं - ( 1 ) फेरस Fe+2 ( 2 ) अमोनियम NH4+ ( 3 ) सल्फेट SO4-2

Download PDF Of आयतनी विश्लेषण से सम्बन्धित प्रश्न :Viva Questions For 12th Class Chemistry Practical

आप सभी स्टूडेंट्स नीचे दिए गये डाउनलोड बटन पर क्लिक करके यह पीडीऍफ़ डाउनलोड कर सकते हो | और इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते हो |
Download PDF
293 KB

Post a Comment

0 Comments